सुझाव

 

नदियों-नालों- तालाबों को खोदने के साथ यह शर्त लगा देनी चाहिए कि खोदने के बाद समतलीकरण भी हो ताकि गहरी खाईयों में बरसात के बाद पानी भर जाने पर इनमें फंस कर डूबने का खतरा न रहे। आमतौर पर होता यह है कि जलाशयों में बेतरतीब खोद कर रेत-मिट्टी निकाल ली जाती है और इनकी वजह से गहरे, घुमावदार खड्डे हो जाते हैं जिनमें फंस कर मृत्यु हो जाने की आशंका बनी रहती है। अधिकांश जल दुर्घटनाओं का कारण यही है।