मरीजों को भा रही हैं जैविक सब्जियाँ

लेकसिटी के अस्पताल में रंग ला रहा है ‘एक्शन उदयपुरका अनूठा प्रयास

 लोक जीवन को सुनहरे आयाम प्रदान करने और परिवेशीय सौन्दर्य का दिग्दर्शन कराते हुए लेकसिटी की आभा को बहुगुणित करने की दिशा में उदयपुर जिला प्रशासन द्वारा चलाये जा रहे ‘एक्शन उदयपुर’ कार्यक्रम की विभिन्न गतिविधियां अब अपनी रौनक से रूबरू करा रही हैं।Organic Farm UDR  (2)

शहरी विकास और सौंदर्यीकरण, मानव उत्थान तथा सामुदायिक एवं व्यक्तिगत लाभ की विभिन्न नवाचारी गतिविधियों के साथ ही एक्शन उदयपुर के अन्तर्गत कई विशिष्ट प्रोजेक्ट हाथ में लिए गए हैं जो दूरदर्शी विकास और जन-जन के कल्याण के स्वप्नों और अभिनव विचारों को मूर्त रूप देने लगे हैं।

एकशन उदयपुर के गो ओरगेनिक संकल्प के अन्तर्गत जैविक सब्जियों के उत्पादन के लिए ऑर्गेनिक खेती की विशिष्ट योजना हाथ में लिए गई है। इसके अन्तर्गत कृषि विज्ञान केन्द्र, बड़गांव के सहयोग से उदयपुर में जैविक सब्जियों के उत्पादन के लिए संस्थाओं और आम जन को प्रेरित एवं प्रोत्साहित किया जा रहा है। इसके लिए कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा वांछित परामर्श भी निःशुल्क दिया जा रहा है।

अस्पताल उगा रहा सब्जियां

जैविक सब्जियों के उत्पादन के लिए कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा उदयपुर संभाग के सबसे बड़े राजकीय महाराणा भूपाल चिकित्सालय के परिसर में खाली पड़ी जमीन पर खेत बनाकर जैविक सब्जियों की खेती का अभिनव प्रयास आरंभ किया गया। इसमें प्रथम चरण में गोल एवं लम्बे आकार के बैगन और टमाटर आदि के ढाई सौ से अधिक पौधे लगाए गए। हरी मिर्च के भी कुछ पौधे लगाए गए।  इन सब्जियों के उत्पादन में वर्मी कंपोस्ट खाद का प्रयोग किया जा रहा है। अब लौकी, हरी मिर्च और दूसरी सब्जियों के पौधे भी लगाए जाने हैें। इनकी देखरेख का जिम्मा संभाल रखा है अस्पताल प्रबन्धन के कार्मिकों ने। इन कार्मिकों के अनुसार सब्जियों की खेती पर हरी नेट लग जाए तो इसके उत्पादन को बढ़ावा मिल सकता है।

लाजवाब हैं रसायनरहित सब्जियाँ

महीने भर पहले लगाए गए इन पौधों से पैदा हुई एकदम ताजी सब्जियों का प्रयोग अब एमबी अस्पताल में मरीजों के लिए बनने वाले भोजन में भी होने लगा है। यह सब्जियां पूरी तरह रसायन रहित होने के पौष्टिक, स्वादिष्ट और स्वास्थ्यवर्धक हैं तथा मरीजों को भाने लगी हैं। शहर में आमजन को भी इस दिशा में प्रेरित किया जा रहा है ताकि जैविक सब्जी उत्पादन की गतिविधियों को और अधिक व्यापकता प्राप्त हो सके।

जन सहभागिता हुई साकार

जिला कलक्टर श्री रोहित गुप्ता की पहल पर संचालित एक्शन उदयपुर कार्यक्रम अब जन अभियान बन चुका है तथा इसके अन्तर्गत आम जन की समस्याओं के त्वरित निस्तारण की कार्यवाही जारी है जिससे लोगों को राहत मिली है वहीं क्षेत्रीय विकास की गतिविधियों को सम्बल प्राप्त हुआ है।

जन भागीदारी से सुखद बदलाव

इस अभियान के अन्तर्गत लोगों द्वारा समूह बनाकर अपने-अपने क्षेत्रों को जन भागीदारी से समस्या मुक्त, साफ-सुथरा और सुन्दर तथा स्वस्थ बनाने के लिए विभिन्न स्वैच्छिक गतिविधियों का सूत्रपात किया जा रहा है। एक्शन उदयपुर के अन्तर्गत अब हर तरफ कुछ न कुछ सृजनकारी ऎसा बहुमुखी एक्शन हो रहा है जो लेकसिटी के विकास और साख दोनों की अभिवृद्धि में ऎतिहासिक भागीदारी निभा रहा है।

बेहतर नेटवर्क का फायदा

एक्शन उदयपुर के जिला कार्यक्रम समन्वयक श्री सुधीर दवे बताते हैं कि एक्शन उदयपुर के माध्यम से आम जन तथा जिला प्रशासन के मध्य बेहतर नेटवर्क स्थापित हुआ है जिसका फायदा उदयपुर के सर्वांगीण विकास की गतिविधियों को प्राप्त हुआ है और इससे रचनात्मक विकास से जुड़े विभिन्न क्षेत्रों में आशातीत सफलता हासिल होती जा रही है। एक्शन उदयपुर अब उदयपुर की जनता का अपना अभियान बन चुका है।