कम बोलें, कम सुनें

दुनिया बहुत बड़ी है और उसी के अनुरूप सब कुछ विराट ही विराट सर्वत्र दृश्यमान हो रहा है, सुनाई भी दे रहा है और प्रत्येक…

कौन खुश है – आपसे-हमसे ?

पहले हर इंसान खुश रहने के साथ ही औरों को खुश रखने को लालायित रहता था । दूसरों को खुशी देने की खातिर लोग अपनी…