पवित्र हो हर मार्ग

दुनिया में हर कोई चाहता है कि जमाने की दौड़ में उसकी रफ्तार सबसे तेज रहे और वह अव्वल ही अव्वल रहे ताकि औरों से…

संस्कार हैं सर्वोपरि

मनुष्य के रूप में पैदा हो जाना और मनुष्यता होना दो अलग-अलग बातें हैं। मनुष्य का शरीर कोई भी प्राप्त कर सकता है लेकिन उसमें…

अपनों को दें भरपूर प्यार

आजकल सभी लोगों को दूर के ढोल, पहाड़ और लोग सुहावने और सुकूनदायी लगते हैं। और यही कारण है कि आदमी अपने आस-पास के सुकून…

कर्ज उतारें इनका

हमें उसी के प्रति वफादार और जवाबदेह होना चाहिए जिसने हमें बनाया है और दायित्व सौंपे हैं। पहला तो है वह विधाता ईश्वर जिसने हमें…

पल्ला झाड़ो, मौज करो

एक समय वह था जब लोग खुद आगे चलकर अपनी रुचि का कोई सा काम हाथ में लेते थे और पूरा करके ही दम लेते…