धर्म के नाम पर न करें अधर्म …

धार्मिक होना अच्छी बात है लेकिन धार्मिकता का ढोंग पाल कर जमाने को भ्रमित करते रहना अपने आप में सबसे बड़ा अधर्म है। धर्म वही…

स्वीकारें-सराहें जीते जी

मानव समुदाय में अच्छे कार्यों और हुनर की बदौलत प्रतिष्ठा पाने और अच्छा मुकाम बनाने  के लिए हर कोई व्यक्ति अनथक प्रयास करता है और…

भौंकते रहेंगे भौंकने वाले

आजकल कोई दूसरी वाणी सुनाई दे या नहीं, लेकिन भौंकने की आवाज हर जगह आसानी से सुनी जा सकती है।  गली-मोहल्लों, चौराहों, सर्कलों, जनपथों से…

समय बड़ा बलवान है

संसार दो तरह के लोगों में विभक्त है। एक वे हैं जो कहते हैं कि मरने तक की फुर्सत नहीं है, दूसरे लोगों से पूछो…

जो कुछ है वह औरों के लिए

समाज की हर इकाई दूसरी इकाइयों को मदद देने के लिए है और इस परस्पर सहकार, समन्वय और सामंजस्य भरी श्रृंखलाओं की पुष्टि से ही…

पुण्य करें खुद के हाथों

दान, धरम और पुण्य ऎसे नाम हैं जिनके बारे देश का कोई कोना ऎसा नहीं है जहाँ इनके बारे में सुनने को नहीं मिले। जहाँ…