उल्लू बनाओ – मौज उड़ाओ

मानवीय सभ्यता में जब तक पूर्ण अनुशासन के भाव विद्यमान थे तब तक हर व्यक्ति अपने-अपने काम में लगा रहता था। किसी के पास भी…

सर्वशक्तिमान की शरण पाएँ

हम जहाँ से भेजे गए हैं और जिसने हमें भेजा है उसे हम भूलते जा रहे हैं और यहाँ आकर छोटी-मोेटी ऎषणाओं और तुच्छ इच्छाओं…

आचरण में लाएं उपदेश

इन दिनों सबसे अधिक भीड़ किसी की है तो वह है उपदेशकों की। ये उपदेशक बस्तियों, कॉलोनियों और चौराहों से लेकर सुनसान जंगलों तक हर…

संकल्प सिद्ध बनें

जीवन को सफल बनाने के लिए तथा हर कदम पर सफलता पाने के लिए संकल्प का दृढ़ होना तथा उस कार्य विशेष के प्रति एकाग्रता…

एक ही सवाल – क्या मिलेगा ?

एक जमाना वह भी था जब लोगों के पास धन-सम्पदा, वैभव आदि सब कुछ होते हुए भी सम्पन्न से सम्पन्न और गरीब से गरीब व्यक्ति…

धर्म के नाम पर न करें अधर्म …

धार्मिक होना अच्छी बात है लेकिन धार्मिकता का ढोंग पाल कर जमाने को भ्रमित करते रहना अपने आप में सबसे बड़ा अधर्म है। धर्म वही…