Astrology

सिर्फ हौव्वा है कालसर्प

ज्योतिष शोध संकाय उदयपुर के निदेशक एवं जाने-माने ज्योतिर्विद श्री रमेशचन्द्र जी. पंड्या ने कालसर्प पर बेबाक और बेहतरीन शोधपरक विचार रखे हैं। कालसर्प के बारे में जानकारी पाने के साथ ही चिन्तन, मनन और मंथन के लिए उनके विचार अविकल इस प्रकार हैं – ऎसा प्रत्येक व्यक्ति जिसे भूगोल का सामान्य सा भी ज्ञान है वह इस तथ्य से ... Read More »

जीवन में आनन्द भर देता है स्वर विज्ञान

नाक से निकलने वाली साँस तय करती है हमारा  भविष्य स्वर विज्ञान अपने आप में दुनिया का महानतम ज्योतिष विज्ञान है जिसके संकेत कभी गलत नहीं जाते। शरीर की मानसिक और शारीरिक क्रियाओं से लेकर दैवीय सम्पर्कों और परिवेशीय घटनाओं तक को प्रभावित करने की क्षमता रखने वाला स्वर विज्ञान दुनिया के प्रत्येक व्यक्ति के जीवन के लिए महत्त्वपूर्ण है। ... Read More »

हर कहीं पड़ता है ग्रह-नक्षत्रों का प्रभाव

भारतीय संस्कृति आदि परंपरा में ज्योतिष का स्थान सदैव अहम् रहा है। इसे विज्ञान और शास्त्र का दर्जा दिया गया है। ‘यथा पिण्डे तद् ब्रह्माण्डे’ के अनुसार इन दोनों में संबंध रहा है। ब्रह्माण्ड में जो-जो परिवर्तन होते हैं, उसका किसी न किसी रूप में आंशिक या पूर्ण रूप से प्राणी मात्र पर असर होता ही है। इसी का परिणाम ... Read More »

उसी वार को घर न लौटे

एक पुरानी कहावत है – अट्ठा मतलब कट्ठा, सब कुछ होवे खट्ठा। इसका संकेत यह है कि जिस वार को यात्रा आरंभ करें, उसी वार को घर वापिस नहीं लौटें।  एक दिन आगे-पीछे कर लें। लोक परम्परा के जानकारों के अनुसार जिस वार को घर से निकलकर कहीं यात्रा पर जाएं, उसी वार को वापस अपने घर लौटने पर मृत्यु ... Read More »

वास्तु अनुकूल बनाने के सहज उपाय काम में लें

वास्तुशास्त्री पं. नरहरिकान्त आर. भट्ट (बाँसवाड़ा) के अनुसार –   – वास्तु दोषों के निवारण में घर के द्वार पर पारम्परिक घण्टी लगाने से घर के स्वामी को ऊर्जा मिलती है और वास्तु दोष निवारण होता है। – इसी प्रकार घर में छींके लटकाने से ताजगी भरी ऊर्जा और उत्साह का प्रभाव बना रहता है। –  द्वार दोष होने पर ... Read More »

बिना तोड़-फोड़ हो सकता है वास्तु दोषों का निवारण

  जाने-माने वास्तुविद एवं  ज्योतिषी डॉ. भगवतीशंकर व्यास (उदयपुर) का मानना है कि  – भवनों में वास्तुदोषों का निवारण बिना किसी तोड़-फोड़ या खर्च के आसानी से संभव है और इसके लिए विभिन्न उपायों को काम में लाया जा सकता है। वास्तुदोष वाले विभिन्न प्रकार के भवनों में बिना किसी मेहनत व खर्च के वास्तुदोषों के त्वरित और प्रभावी निराकरण ... Read More »

व्यंग्य – आइये महान ज्योतिषी बने

ऎषणाओं की प्रतिमूर्ति बनते जा रहे मनुष्य में भविष्य जानने की लालसा जाने कितने युगों से रही है। ऎसे में ज्योतिष का प्रभाव दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है। आजकल ज्योतिष के नाम पर जानकारों की बाढ़ आ गई है, जगह-जगह कुकुरमुत्तों की तरह उग आए हैं ज्योतिषी। इसके साथ ही हस्तरेखाविद् बनने का शौक भी हर कहीं परवान ... Read More »

ज्योतिष चर्चा – कैसे रहेंगे आने वाले छह माह

22 दिसम्बर की प्रभात बताएगी – छह माह का भविष्य बुधवार शाम सायन में मकर का सूर्य आ जाने के बाद से ही उत्तरायण में रवि की गति आरंभ हो गई है। इस दृष्टि से 22 दिसम्बर 2016 गुरुवार की प्रभात मकर के सूर्य में होगी। स्वरोदय विज्ञान के अनुसार यदि जीवात्मा का जागरण गुरुवार सवेरे सूर्य यानि की दांये ... Read More »

अनूठा प्रयोग – यों करें गुस्से को शान्त

जब भी किसी बात पर गुस्सा आए या और कोई हम पर गुस्सा होने की कोशिश करे, मन ही मन तीन बार निम्न मंत्र का जप कर लें। खुद का क्रोध भी खत्म हो जाएगा और सामने वाला भी गुस्सा करना भुल जाएगा। कई बार हमें यह आशंका रहती है कि जिससे मिलने जा रहे हैं वह गुस्सा तो नहीं ... Read More »