Astrology

प्रसाद

देवी-देवताओं को समर्पित हर वस्तु प्रसाद इसे बेचने व खरीदने वालों को लगता है पाप भगवान को समर्पित की गई हर वस्तु अपने आप प्रसाद में परिवर्तित हो जाती है। जो सामग्री भगवान की मूर्तियों के समक्ष या मंदिरों में चढ़ाई जाती है उसका प्रसाद रूप में निःशुल्क वितरण उन वालों को कर दिया जाना चाहिए जो जरूरतमंद हैं। आजकल ... Read More »

ये लोग न करें दान

जो लोग कर्ज में दबे हुए हैं, जिनके जीवन की रोजमर्रा की आवश्यकताएं पूरी नहीं हो पा रही हैं  उन लोगों को दान-पुण्य नहीं करना चाहिए। ऎसे लोग दिखावों या किसी के बहकावे में आकर दान-पुण्य करते हैं, दक्षिणा देकर पूजा-पाठ कराते हैं, उसका कोई फल प्राप्त नहीं होता। इनके लिए यही श्रेयस्कर है कि पशु-पक्षियों के लिए दाना-पानी की ... Read More »

यही है असली छत्र-छाया

जिन लोगों के माता-पिता जीवित होते हैं वे लोग ग्रह-नक्षत्रों, भूत-प्रेतों तथा बाहरी नकारात्मक शक्तियों के प्रभाव से सुरक्षित रहते हैं। माता-पिता का साया हमारे लिए अपने आप में अभेद्य सुरक्षा कवच है जिसे कोई नहीं भेद सकता। यहां तक कि शनि की ढैया और साढ़े साती में भी सुरक्षित रहते हैं।  पर शर्त यही है कि माता-पिता हमसे प्रसन्न ... Read More »

टोटका – बोस को यों दिखाएं आईना

बोस कैसा भी कमीन हो, सीधा हो जाएगा किसी नालायक, व्यभिचारी भ्रष्ट और बेईमान-बदतमीज स्त्री या पुरुष बोस से परेशान हैं तो यह टोटका करें। जिस किसी कागज पर अपने ऎसे किसी नालायक बोस के हस्ताक्षर अंकित हों, उसके हस्ताक्षरों को लाल स्याही से इक्कीस से ज्यादा घेरे बनाते हुए यह भावना करें कि बोस रस्सियों से जकड़ा जा रहा ... Read More »

वास्तु चर्चा – बाथरूम रखें साफ-सुथरा, गंधमुक्त

जिस घर के बाथरूम से बदबू आती रहती हो, रसोईघर में झूठन पड़ी रहती हो, रात के समय झूठे बर्तन बिना माँजे पड़े रहते हें, वह घर वास्तु शास्त्र के हिसाब से कितना ही श्रेष्ठ क्यों न बनाया गया हो, वहाँ वास्तुदोष के साथ ही सारे ग्रह-नक्षत्र कुपित रहते हैं और कोई भी देवी-देवता उस घर की ओर झाँकते तक ... Read More »

मन, कर्म और वचन से पक्का, वही ज्योतिषी सच्चा

ज्योतिष यों तो हमेशा लोकप्रिय रहा है लेकिन इन दिनों इसके प्रति कुछ ज्यादा ही लगाव देखा जा रहा है। जब से टीवी पर ज्योतिष और चमत्कारों की चर्चाएं बढ़ी हैं तब से तो ज्योतिष का ग्लैमर ही कुछ विचित्र होता जा रहा है। लेकिन जिस अनुपात में ज्योतिष का वर्चस्व बढ़ा है उस अनुपात में ज्योतिषीय सच्चापन नहीं बढ़ ... Read More »

चोरों से बचने का मंत्र

जब भी कहीं बाहर जाना हो, चोरों का भय हो, तो दरवाजा बन्द कर निम्न मंत्र को तीन बार बोल कर द्वार या ताले को खटखटा दें। इससे चोरों का भय नहीं रहेगा। रात को सोने से पूर्व अपने सभी दरवाजों को यह मंत्र बोल कर बन्द करें। इससे चोर घर में प्रवेश करने का साहस नहीं कर पाएंगे। ऊँ ... Read More »

महान रहस्य का उद्घाटन – नालायक पण्डित और बाबा ऎसे करते हैं टोटके

धन लोभ और प्रभावशाली वीआईपी से घनिष्टता बनाए रखने के चक्कर में इन विशिष्टजनों के कुकर्मों और पापों का भार उतारने के लिए कतिपय ढोंगी बाबा और धुतारे लोभी पण्डित ऎसे कई सारे टोटके करते हैं जिनके कारण से बेचारे नासमझ और भोले-भाले लोगों को दुःखी होना पड़ता है। ये वीआईपी कहे जाने वाले बड़े और महान लोगों की प्रतिष्ठा ... Read More »

प्रेम रस वृष्टि करता है यह महामंत्र

ॐ क्लीं कृष्णाय वासुदेवाय हरये परमात्मने। प्रणतक्लेश नाशाय गोविन्दाय नमो नमः। धुलेड़ी के दिन इस मंत्र से भगवान श्रीकृष्ण के चरणकमलों में लाल गुलाल चढ़ायें।  इससे प्रेम बढ़ता है और हमारा व्यक्तित्व प्यार से भर उठता है। प्रेम मिलता भी है और प्रेम बाँटने का अक्षय स्रोत भी प्राप्त होता है। https://youtu.be/fk6edAMEuIE Read More »

न देखें पीछे मुड़कर

काम-धंधे, नौकरी या यात्रा पर जाने के लिए घर की दहलीज से बाहर निकलने के बाद पीछे मुड़कर घर की ओर देखना नहीं चाहिए। इससे लक्ष्य प्राप्त करने में रुकावट आ सकती है। सीधा सा अर्थ है कि घर से निकलने के बाद कभी भी मुड़कर वापस घर की ओर नहीं देखना चाहिए। कई लोग घर से बाहर यात्रा पर ... Read More »