Astrology

वास्तु चर्चा – अभिशप्त होते हैं ऎसे भवन और परिसर

धरती कभी खराब नहीं होती और न ही अशुद्ध होती है। इसे बिगाड़ने, अशुद्ध और प्रदूषित करने का काम इंसान ही करते हैं। वे सारे स्थल तब तक शुद्ध बने रहते हैं जब तक कि इंसान की पहुुंच वहां तक नहीं हो पाती है। जैसे ही किसी स्थान पर इंसानी प्रजाति की कोई सी इकाई पहुंच जाती है वैसे ही ... Read More »

मनचाहा स्थान पाने तथा तबादले के लिए अचूक मंत्र ….

अर्जुन के दस नाम चमत्कारिक हैं। इनका स्मरण करने मात्र से इच्छित मनोकामना पूर्ण होती है और जगत में पराक्रम फैलने से कोई रोक नहीं सकता। जो लोग एक ही स्थान पर बने रहना चाहते हैं अथवा मनचाहे स्थान पर तबादले के इच्छुक हैं, उनके लिए अर्जुन के दस नामों का स्मरण और जप अत्यन्त लाभकारी एवं अचूक प्रभाव छोड़ने ... Read More »

तंत्र चर्चा – बगलामुखी साधना करने वाले साधकों के लिए

जो लोग बगलामुखी साधना करते हैं उन्हें चाहिए कि वे मां को प्रसन्न करने के लिए साधना करें या फिर अपने किसी काम की सिद्धि पाने अथवा शत्रुओं पर विजय प्राप्त करने, पहले अपने आपको शुद्ध-बुद्ध कर लें तथा पूरी सात्विकता को अपनाएं। इसके बाद ही मां की आराधना करेंं। खुद भ्रष्ट, व्यभिचारी और स्ति्रयों की निंदा करने वाले हों, ... Read More »

22 दिसम्बर की प्रभात से जानें आगामी छह महीनों का भविष्य

भगवान भास्कर 22 दिसम्बर, शुक्रवार की प्रभात में उत्तरायण में उदित होंगे।  यह प्रभात हम सभी के लिए आगामी छह माहों यानि की उत्तरायण के 6 महीनों के भविष्य का संकेत देने वाली होगी। और इस संकेत को जानने का सबसे सरल और प्रभावी माध्यम है स्वर। अपनी नाक से निकलने वाले स्वर से हम जान सकते हैं कि हमारे ... Read More »

घर न ले जाएं आफिस के काम

आफिस या काम-काज स्थल से जुड़े कामों को घर न ले जाएं। आफिस से संबंधित कागजात और सामग्री घर ले जाने से घर का वास्तु भंग होता है और इससे दाम्पत्य या पारिवारिक जीवन में कलह पैदा होता है तथा घर की शांति और सुकून छीन जाता है। जहाँ तक हो सके ऑफिस के काम ऑफिस में ही निपटा लें। ... Read More »

वास्तु चर्चा – प्रगति में बाधक हैं ये

हर प्रकार का प्रवाह अपने आप में सहज, सरल और निर्बाध रहना चाहता है। जब तक उसकी यह मौलिक अवस्था बनी रहती है तभी तक यह प्रवाह देखने में आनंददायी और अनुभव करने में सुकूनदायी रह सकता है। जैसे ही उसकी मौलिकता मेंं आंशिक या पूर्ण अवरोध आरंभ होता है वैसे ही यह प्रवाह अपना अस्तित्व खोने लगता है या ... Read More »

जो आजमाएं सो निहाल- सेहत और समृद्धि पाने का अनूठा दीवाली टोटका ….

दीपावली पर उपहारों, मिठाइयों और भेंट-पूजा से पाएं नई जिन्दगी दीपावली पर दो तरह के लोगों की भरमार रहती है। एक तरफ वो बहुसंख्य लोग हैं जिनके लिए यह विवशता होती है कि अपने बॉस-बॉसियों, आकाओं, कल्याणकारी समाज की नवरचना के लिए ही पैदा हुए मध्यस्थों और लोकपूज्य माने जाने वाले महान और बड़े लोगों को खुश करने के लिए ... Read More »

बगलामुखी साधना को अपनाएं, निश्चिन्त जिन्दगी पाएं …

भ्रष्ट, दुष्ट, शोषकों, अत्याचारियों, दुराचारियों, अहंकारियों और पापियों से तंग आ गए हों तो किसी श्रेष्ठ और सिद्ध गुरु से दीक्षा प्राप्त कर बगलामुखी उपासना को आरंभ कर दें। मामूली साधना से थोड़े ही दिनों में शत्रुओं का अपने आप ऎसा ईलाज हो जाएगा कि सब लोग देखते रह जाएंगे। पर शर्त यही है कि बगलामुखी साधना वे ही लोग ... Read More »

दैवीय गुण आएं तभी शक्ति उपासना सफल

शक्ति तत्व का अर्थ अत्यन्त व्यापक और गहन अर्थों को समेटे हुए हैं। शक्ति उपासना से भी तात्पर्य केवल नवरात्रि का भजन-पूजन, कीर्तन-गरबा, देवी महिमा के भजनों, मंत्रों और स्तुतियों से भरी कैसेट्स, फिल्मी और दूसरे गाने, माईक और डीजे चलाने से ही नहीं है बल्कि शक्ति की उपासना तभी सार्थक है जबकि हमारे भीतर शक्ति तत्व का जागरण, संचरण ... Read More »

नवरात्रि पर विशेष – भक्तिभाव से करें मैया की आराधना

साल भर में कुछेक अवसर ही ऎसे आते हैं कि जब उस समय विशेष में जो कुछ किया जाता है उसका अनन्त गुना फल प्राप्त होता है और इस काल में प्राप्त ऊर्जा जीवन भर के लिए उपयोगी बनी रहती है। इसका कभी क्षरण नहीं होता। नवरात्रि ऎसा ही एक पर्व है जिसमें की जाने वाली शक्ति उपासना अपने आप ... Read More »