Monthly Archives: March 2016

स्त्री मात्र को है पूजा का पूर्ण अधिकार

स्त्री मात्र को पूजा का पूरा अधिकार है। चाहे वह शिवलिंग की पूजा हो या फिर किसी और देवी या देवता की। जो लोग स्ति्रयों को शिवलिंग या किसी भी देवी-देवता के मन्दिर में गर्भ गृह में जाने से रोकते हैं वे धर्म के मूल तत्व से अनभिज्ञ, पाखण्डी और धूर्त होते हैं, इन लोगों के जीवन से धर्म बाहर ... Read More »

यक्ष प्रश्न – कहाँ गायब हो गए खटमल ?

क्या ग़ज़ब हो गया है। अब खटमल कहीं दिखते नहीं, गायब हो गए हैं। कुछ दशक पहले तक लोग परेशान हुआ करते थे खटमलों से, खटमलों को मारते-मारते तंग आ जाते थे फिर भी साले कपड़ों, खटिया, कुर्सी-टेबल, सोफों और दूसरे कोनों में दुबके रहते और मौका हाथ लगते ही खून चूस लिया करते थे। शरीर पर लाल उभार भरा ... Read More »

श्री पूर्णाशंकर पण्ड्या का महाप्रयाण

आदर्श कर्मयोगी की अपूरणीय क्षति   शुक्रवार शाम का एक समाचार शोक संतप्त कर गया। समाचार मिला – शिक्षाविद् श्री पूर्णाशंकर पण्ड्या नहीं रहे।  शिक्षा, समाजसेवा, धार्मिक गतिविधियों और जन कल्याण से लेकर इंसानियत के हर मोर्चे पर उनका योगदान किसी न किसी रूप में रहा है।    अस्सी वर्षीय पूर्णाशंकर पण्ड्या समााजिक सेवा कार्यों में हमेशा अग्रणी रहे। दो ... Read More »

इंसान हैं, इंसान बनें रहें

इंसान की तरह जियें इंसान होना अपने आप में परमात्मा की परम कृपा है, मनुष्य भगवान का अंश है और उसे उसी मौलिकता में इंसानी गर्व के साथ जीना चाहिए। लेकिन बहुत से लोग अपने आपको इंसान की बजाय छोटी-मोटी गुमटी, कियोस्क या दुकान के रूप में स्थापित कर लिया करते हैं और मरते दम तक धंधेबाजी में रमे रहते ... Read More »

प्रेम चाहें तो यह करें, उमड़ने लगेगा प्यार का सागर

प्रेम और दाम्पत्य में कमी महसूस हो रही हो, जिससे प्रेम करना चाहते हैं वह रूठे हुए हों, प्रेम में अप्रत्याशित बढ़ोतरी चाहें, प्रेम और वैवाहिक रिश्तों में प्रगाढ़ता और शाश्वत स्वरूप देखना चाहें तो धुलेड़ी के दिन  भगवान के श्रीविग्रह पर गुलाल से अभिषेक करें और गुड़ समर्पित करें।  इससे प्रीति बढ़ती है।  फिर प्रसाद रूप में इस गुलाल ... Read More »

होलिका पूजन

होलिका पूजन महासुखदायी वागड़ की परंपरा है ठण्डी होली की पूजा, इससे सौभाग्य प्राप्ति होती है और साल भर सुख समृद्धि बनी रहती है। Read More »

होली पर आजमाएं अचूक टोने-टोटके

दैहिक, दैविक और भौतिक संतापों, शत्रुओं, सम सामयिक समस्याओं और अभावों से परेशान हो गए हों तो इन टोटकों को आजमाएँ – तिलपपड़ी देती है आरोग्य मकर संक्रान्ति को बनाई गई तिल पापड़ी को जलती होली देख कर प्रसाद रूप में खा लेने से अगली होली तक शरीर स्वस्थ रहता है। खासकर गर्मीजन्य कष्टों से बचा रहा जा सकता है।  ... Read More »

अजब-गजब

पपीते पर पूर्ण आकार ले रहे फलों को नज़र से बचाने के लिए तने पर जूते बांधे हुए हैं। यह चित्र उदयपुर जिले के बस्सी गांव का है। Read More »

अनिष्ट निवारण के लिए होली के समक्ष लें संकल्प

जो लोग एक पेड़ नहीं लगा सकते, पेड़ों की कटाई करते हैं, वनों का सफाया करते हैं और प्रकृति का शोषण करते हैं उन्हें होली दहन का कोई अधिकार नहीं है। ये लोग होली के नाम पर लकड़ियां जलाते हैं तो उन्हें पाप का भागी होना पड़ता है और साल भर के भीतर उतने अनिष्ट आते हैं जितनी लकड़ियाँ ये ... Read More »