वास्तु चर्चा – छतें रखें साफ-सुथरी

घर की छतों को साफ-सुथरा रखें तभी दैवीय शक्तियों का प्रवेश हमारे घर में हो सकता है। इनका अवतरण सड़क मार्ग से न होकर अन्तरिक्ष मार्ग से ही होता है। इसलिए छतों को हमेशा स्वच्छ रखें। छतों पर कबाड़ भरा होने से गृहस्वामी तथा घर के लोगों का आकाश भाग(मस्तिष्क)  दूषित रहेगा और बौद्धिक मलीनता, वाद-विवाद व कलह हमेशा बना रहेगा। नींद आने में भी समस्या बनी रहेगी तथा हमेशा शरीर थका-थका महसूस होगा। छतों पर कचरा, कबाड़ और अनावश्यक सामग्री का होना सबसे बड़ा वास्तुदोष है। छतें जितनी साफ-सुथरी एवं सहज भ्रमण के योग्य होंगी, उतना घर-प्रतिष्ठान वालों को सुख मिलेगा।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *